जानिए कैसे 22 वर्षों में रतन टाटा की इस कंपनी ने 1 लाख रुपए से बनाए 86.70 लाख रुपए…

टाटा ग्रुप अन्य कंपनीज की तरह लाइमलाइट में नहीं रहती हैं हालाँकि जब भी रिटर्न देने की बात आती हैं तो वे किसी से कम नहीं हैं.

आपको जानकर ये हैरानी होगी की टाटा ग्रुप में लगभग 22 वर्षों में निवेशकों को 8700 फीसदी रिटर्न दिया हैं,

सुनने में ये थोडा अजीब लगे लेकिन ये बिलकुल सच हैं. पिछले एक साल की बात करे तो भी कंपनी ने 45 फीसदी तक रिटर्न दिया हैं.

पिछले 6 महीनें की बात करे तो कंपनी ने 31 फीसदी रिटर्न दिया जबकि एक महीनें में निवेशकों को 2 फीसदी का मुनाफा हुआ हैं. लॉन्ग टर्म के नजरिये से कंपनी में निवेश करना अच्छा हैं. 

आज लेख में हम आपको बताएंगे की पिछले 22 सालों में कंपनी ने निवेशकों को कितना रिटर्न दिया हैं.

1 जनवरी 1999 से 20 जुलाई 2021 तक कंपनी ने 8684.19 फीसदी का रिटर्न दिया हैं. एक जनवरी को नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर कंपनी का स्‍टॉक का मूल्य सिर्फ 9.87 रुपए था. जो 20 जुलाई 2021 को 867 रुपए पर बंद हुआ. 

लगभग 270 महीने और 20 दिन के दौरान कंपनी के शेयरों में लगभग 88 गुना उछाल आया हैं और निवेशकों ने मोटी कमाई की हैं.

अप्रैल 1999 में अगर किसी निवेशक ने लगभग 10 रूपए प्रति शेयर के हिसाब से एक लाख के शेयर ख़रीदे होते तो आज उन 10000 शेयरों की कीमत करीब 86.70 लाख रूपए होती और सिर्फ एक लाख के निवेश से निवेशक करोड़पति बन गए होते.

पिछले एक साल की बात करे तो टाटा ग्रुप ने अन्य कंपनीज के अपेक्षा ज्यादा रिटर्न नहीं दिया हैं. बीते के साल में कंपनी ने लगभग 44 फीसदी रिटर्न दिया हैं.

जबकि सिर्फ 2021 में ही शेयर में 28.51 फीसदी का उछाल देखने को मिल चूका हैं और पिछले महीनें की बात करे तो निवेशकों को 1.68 फीसदी रिटर्न मिला हैं.